बीजेपी ने एक साल के भीतर 7 दिग्गज राजनेताओं को खो दिया

बीजेपी ने एक साल के भीतर 7 दिग्गज राजनेताओं को खो दिया

जहां देश नियमित आधार पर कुछ उतार-चढ़ाव से गुजर रहा है, वहीं देश की मौजूदा प्रमुख पार्टी भारतीय जनता पार्टी के साथ भी यही स्थिति है। पार्टी ने हाल ही में कुछ महान नेताओं और राजनेताओं के निधन को देखा है जिन्हें भाजपा के आवश्यक घटक के रूप में माना जा सकता है।

हाल ही में पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया। जानकारी के अनुसार, वह एक लंबी बीमारी से पीड़ित थे जिसके कारण उन्हें 9 अगस्त 2019 को सांस लेने की समस्या के कारण एम्स में भर्ती कराया गया था। वर्ष 2019 भाजपा के लिए इस मायने में अच्छा नहीं रहा क्योंकि पार्टी इस कैलेंडर वर्ष में अभी भी कुछ महीनों के साथ 7 दिग्गज नेताओं को खो चुकी है।

अरुण जेटली सहित, बीजेपी ने एक साल के भीतर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और अन्य को खो दिया।

# 1 बलरामजी दास टंडन - 14 अगस्त 2018

मृत्यु का क्रम बलरामजी दास टंडन के साथ शुरू हुआ जो छत्तीसगढ़ के पूर्व राज्यपाल थे। उन्होंने 14 अगस्त 2018 को अपनी अंतिम सांस ली, जहां डॉक्टरों ने बताया कि वह पूरी तरह से बेचैनी की स्थिति में थे। उनका 90 वर्ष की आयु में निधन हो गया और उन्होंने बीआर अंबेडकर मेमोरियल अस्पताल में अंतिम सांस ली।

# 2 अटल बिहारी वाजपेयी - 16 अगस्त 2018

भारत के पूर्व पीएम और भारत के इतिहास के दिग्गज राजनीतिज्ञ, अटल बिहारी वाजपेयी ने 16 अगस्त, 2018 को अपनी अंतिम सांस ली। 11 जून 2018 को उनकी किडनी की नली संक्रमित होने के बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। दरअसल, यह एक बड़ा नुकसान था जो लंबे समय तक भाजपा के दस्ते को प्रभावित करेगा।

# 3 मदन लाल खुराना - 27 अक्टूबर 2018

मदन लाल खुराना दिल्ली के पूर्व सीएम थे, जिनकी मृत्यु 27 अक्टूबर, 2018 को हुई थी। उन्होंने 1993 से 1996 तक दिल्ली के सीएम के रूप में कार्य किया जिसके बाद उन्हें 2001 में राजस्थान के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया।

# 4 अनंत कुमार - 12 नवंबर 2018

अनंत कुमार, जो अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र मोदी दोनों के लिए भाजपा पार्टी के एक सक्रिय सदस्य थे, ने 12 नवंबर, 2018 को अपनी अंतिम सांस ली। उन्होंने भाजपा की छत्रछाया में मंत्री पद संभालने के साथ-साथ कई बार सांसद के रूप में भारत की सेवा की। उनकी मृत्यु का कारण कैंसर था।

# 5 मनोहर पर्रिकर - 17 मार्च 2019

मनोहर पर्रिकर, जो भारतीय राजनीति के इतिहास में एक प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ थे, कैंसर के कारण मर गए। वह लंबे समय से इस बीमारी से पीड़ित थे और आखिरकार 17 मार्च, 2019 को इसके साथ युद्ध हार गए। वह गोवा के पूर्व सीएम के साथ पूर्व केंद्रीय रक्षा मंत्री थे।

# 6 सुषमा स्वराज - 6 अगस्त 2019

सुषमा स्वराज, भारतीय राजनीति के एक और अनुभवी और गतिशील व्यक्तित्व ने 6 अगस्त, 2019 को अपना जीवन खो दिया। वह एक पूर्व विदेश मंत्री थीं, जिन्हें सभी दलों के बीच एक गतिशील और प्रभावी वक्ता के रूप में जाना जाता था। कार्डिएक अरेस्ट की वजह से 67 साल की उम्र में उनकी मौत हो गई।

आपको यह भी पसंद आ सकता हैं

महाराष्ट्र झटका: बीजेपी के लिए आगे क्या? राजनीति

महाराष्ट्र झटका: बीजेपी के लिए आगे क्या?

राम जेठमलानी के बारे में रोचक तथ्य राजनीति

राम जेठमलानी के बारे में रोचक तथ्य

https domain sub domain with http to do R&D